Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

वृंदावन। अंधश्रद्धा को लेकर विवादों में चल रहे बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री को हिंदू महासभा के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष दिनेश शर्मा ने अपना समर्थन देते हुए उन्हें धर्म ध्वजा को बुलंद करने वाला बताया है।

हिंदू महासभा के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष दिनेश शर्मा ने कहा कि पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री धर्म के उपासक हैं और उन्होंने ब्रिटेन की संसद में भी जय श्री राम के नारे लगवा कर यह साबित कर दिया कि वह सनातन धर्म के प्रचार एवं प्रसार के लिए आगे बढ़कर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हिंदू महासभा पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के साथ खड़ी है और उनका समर्थन करती है। दिनेश शर्मा ने बताया कि बागेश्वर महाराज की गद्दी बहुत पुरानी है और उनके आशीर्वाद से लोग अगर कुछ लाभ प्राप्त कर रहे हैं तो इसमें गलत क्या है। दिनेश वर्मा ने कहा कि कुछ असामाजिक तत्व जो सनातन धर्म से नफरत करते हैं वह उनकी ख्याति को नष्ट करने का प्रयास कर रहे हैं और यह पूरा विवाद उसी षड्यंत्र का नतीजा है। उन्होंने कहा धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के साथ पूरा संत समाज और हर सनातनी कंधे से कंधा मिला कर खड़ा हुआ है। दिनेश शर्मा के अनुसार कांग्रेस के शासन में मुगल शासकों का गुणगान किया जाता था लेकिन अब जब सनातन अपनी बुलंदियों की ओर एक बार फिर से अग्रसारित हो रहा है तो यह सनातन विरोधियों के पेट का दर्द बनता जा रहा है। कि जिसको सनातन धर्म की ताकत देखनी है तो रामायण और श्रीमद्भगवद्गीता जैसे ग्रंथों का अध्ययन करें तो उसे स्वयं ही सनातन की शक्ति का एहसास हो जाएगा।

(2) संत समाज ने दिया प्रस्तावित कॉरिडोर को समर्थन

फोटो 2

वृंदावन। विगत कई दिनों से वृंदावन के ठाकुर श्री बांके बिहारी महाराज मंदिर परिसर में बनने वाले कॉरिडोर को लेकर स्थानीय निवासियों के द्वारा विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। मामले में उस वक्त नया मोड़ आ गया जब वृंदावन के संत समाज द्वारा सिटी मजिस्ट्रेट को कॉरिडोर के संबंध में अपना समर्थन पत्र सौंपा गया।

विवादों में चल रहे प्रस्तावित कॉरिडोर मामले में वृंदावन के संत समाज द्वारा टटिया स्थान स्थित परिक्रमा मार्ग में सिटी मजिस्ट्रेट सौरभ दुबे अपर नगर आयुक्त क्रांति शेखर सिंह एवं विकास प्राधिकरण के सचिव राजेश कुमार सिंह को अपना समर्थन पत्र सौंपा गया। जग प्रसिद्ध ठाकुर बांके बिहारी मंदिर में आने वाले देश विदेश के श्रद्धालुओं की सुरक्षा बस सुविधा के साथ ही मंदिर के आसपास के क्षेत्र में भीड़ को नियंत्रित करने के उद्देश्य से कॉरिडोर निर्माण की योजना प्रदेश सरकार द्वारा बनाई गई है। जिसके फलस्वरूप स्थानीय अधिकारियों को सेवायत गोस्वामी और व्यापारी वर्ग का खासा विरोध झेलना पड़ रहा है। इसी क्रम में संत समाज की ओर से महंत फूलडोल बिहारी दास द्वारा सिटी मजिस्ट्रेट सौरभ दुबे और अपर नगर आयुक्त क्रांति शेखर सिंह को मुख्यमंत्री के नाम अपना समर्थन पत्र सौंपा गया। पत्र में संत समाज ने कहा है कि ठाकुर बांके बिहारी मंदिर परिसर सहित आसपास का क्षेत्र सकरा होने के कारण वहां दर्शनार्थियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है और स्थान कम होने के कारण पूर्व में कई घटनाएं इस प्रकार की हो चुकी हैं जिसमें लोगों को अपनी जान से भी हाथ धोना पड़ा है। संत समाज के अनुसार श्रद्धालुओं की सुरक्षा और सुविधा की दृष्टि से लिया गया यह फैसला सराहनीय है। साथ ही संत समाज द्वारा मुख्यमंत्री को लिखे गए अपने पत्र में यह भी कहा गया है कि कॉरिडोर का निर्माण सनातन संस्कृति के आधार पर हो एवं मंदिर के सेवायत गोस्वामी व्यापारी एवं क्षेत्रीय निवासियों की सुविधाओं का भी ध्यान रखा जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *